CID और CBI में क्या अंतर है।CBI का नौकरी कैसे लें

नमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम CBI के बारे में पूरी DETAILS में जानेंगे CBI से related आपके मन में जितने भी सवाल है। उन सभी सवालों को आज हम जानेंगे जैसे कि CBI क्या है(CBI IN HINDI), CBI और CID में क्या अंतर है। CBI किसके कहने पर जांच करती है, और CBI का नौकरी कैसे लें। इन सभी सवालों को पूरे DETAILS में जानेंगे तो पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को पूरा पढ़े।

CBI क्या है।(CBI IN HINDI)


देखिए जो पुलिस होता है वह सिर्फ अपने ही राज्य में जांच कर सकते हैं। अगर दूसरे राज्य में कोई घटना हुई है, और उसकी शिकायत कोई दूसरे राज्य में करता है, तो उसे जीरो f.i.r. कहते हैं। जिस राज्य में शिकायत दर्ज किया जाता है उस राज्य की पुलिस उस f.i.r. को उस राज्य में ट्रांसफर कर देता है, जिस राज्य की वह शिकायत होती है। लेकिन इस राज्य की पुलिस उस घटना होने वाले राज्य में जाकर जांच नहीं कर सकती है । इसी समस्या को लेकर एक central body कि स्थापना की गई। जिसका power पूरे इंडिया लेवल पर हो।

साल 1941 में दिल्ली स्पेशल फोर्स का गठन किया गया लेकिन साल 1946 में दिल्ली स्पेशल फोर्स को एक स्पेशल पावर एक्ट के तहत centeral level पर जाचं करने की पावर दे दिया गया। इसी को 1963 में CBI में बदल दिया गया।

सीबीआई का हेड क्वार्टर दिल्ली में है। और यह बहुत ही हाईप्रोफाइल कैस की जांच करती है। चाहे व राष्ट्रीय हो या अंतरराष्ट्रीय हो इन सभी की जांच सीबीआई करती है।

मैं आपको बता दूं कि सीबीआई को पुलिस का पुलिस भी कहा जाता है। अगर कोई भी डिपार्टमेंट में करप्शन होता है तो उसकी जांच CBI करती है चाहे वह कितना ही बड़ा डिपार्टमेंट क्यों ना हो । अगर पुलिस में कोई बड़ा अफसर भी गलती करेगा तो उसकी जांच सीबीआई कर सकती है।

CBI अगर किसी सामान्य जांच के लिए जाते हैं तो उसके पास हथियार नहीं होते लेकिन अगर कोई वह खतरनाक जगह पर जांच करने के लिए जाए तो वह अपनी सेफ्टी के लिए अपने साथ हथियार रख सकता है। CBI ज्यादातर हमेशा सिविल ड्रेस में ही होते हैं।

CID और CBI में क्या अंतर है।


CID और CBI के में अंतर की बात करें तो की बात करें तो तो CID भी सिर्फ अपने राज्य में ही जांच कर सकते हैं। वह दूसरे राज्य के केस में अपना दखल अंदाजी नहीं कर सकते। लेकिन CBI में ऐसी कोई बात नहीं नहीं है वह कहीं भी जाकर केस के जांच कर सकते हैं। चाहे वह केश राष्ट्रीय हो या अंतरराष्ट्रीय।

 

CBI किसके कहने पर जाचं करती है।


CBI जो होती है DEPARTMENT OF personal and training यानि कार्मिक मंत्रालय के अधीन काम करती है। जिस पर PM और PRIME MINISTER ऑफिस सीधी नजर रखती है।

किसी भी मामले के जांच के लिए CBI को बुलाने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों की सहमति की आवश्यकता है । अगर राज्य सरकार का सहमति न दे तो सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर भी CBI उस राज्य में जांच कर सकती है।


CBI का नौकरी कैसे लें।


 

अगर हम CBI के नौकरी की बात करें तो CBI की नौकरी पाने के लिए आपकी क्वालिफिकेशन ग्रेजुएशन होना जरूरी है। और CBI की नौकरी पाने के लिए आपको SSC का exam देना होता है। जो ग्रेजुएट लेवल पर होता है जिसे कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल SSC CGL कहते हैं। इस Exam के माध्यम से आप CBI में नौकरी पा सकते हैं ।

 

क्या CBI किसी से डरती है।


 

एक बार जब CBI को जांच मिल जाती है तो CBI का दायरा पूरे हिंदुस्तान में है। CBI किसी के अंडर में नहीं आएंगे। यह किसी के काम में दखलंदाजी कर सकते हैं। सीबीआई पर कोई दबाब नहीं रहता है ना तो किसी मंत्री या MP या MLA किसी का भी दबाब सीबीआई पर नहीं रहता है।

No comments:

Post a comment